Thursday, February 20, 2014

इतनी सी - अनन्या दासगुप्ता

tr. of Anannya Dasgupta's poem 'By a fraction'

तुम
इतनी अज़ीज़,
इतनी पास जितनी
दो धड़कनें दूर होती हैं

फिर भी
इतना दिल,
और इतनी सी धड़कन,
कि कपकपाती, मजबूर होतीं है


(with much help from Anannya Dasgupta)


No comments: