Tuesday, March 8, 2016

तुम आये हो या

पल्स खाते-खाते ज़ुबान पर
नमक आया है?

No comments: